चांद छुपा बादल में शरमा के मेरी जानां..(करवा चौथ)- आनंद 😜

चांद छुपा बादल में शरमा के मेरी जानां……..

यूं तो त्योहारों का देश है अपना, लेकिन करवा चौथ नामक इस नए त्योहार ने पंजाब और राजस्थान की गलियों से निकलकर पूरे देश भर में जिस तरह अपनी पैठ बनाली है उनमें बॉलीवुड का योगदान जबर है,

जंबूद्वीपे, आर्यावर्ते, भारतखंड में कलयुग के चतुर्थ कल्प में जन्में आदित्य चोपड़ा द्वारा निर्देशित और शाहरूख-काजोल स्टारर कालजयी सनिमा ‘दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगे’ से लेकर संजय लीला भंसाली की सलमान, अजय देवगन और ऐशवर्या स्टारर ‘हम दिल दे चुके सनम’ तक करवा चौथ और हिट होता गया, पूरा देश इससे अवगत हुआ, टीवी और सीरियलों का भी इसे जनसामान्य में लोकप्रिय बनाने में बहुत ही योगदान है, इसने इस व्रत को छोटे – छोटे गाँवों और कस्बों तक पहुँचा दिया है.

त्योहार की प्रकृति पर आए तो इसमें पत्नी अपने पति की लंबी आयु के लिए निर्जला व्रत रखती है और शाम में चलनी में से पति को झांक के अपने पति के हाथ से ही पानी पीती है.

खेैर, इस त्योहार से खर्च नामक जो मिसाईल निकलते हैं और जिसका शिकार पति नामक जीव होता है, और मिसाईल कहीं लगे पूरा बजटीय महत्व का होता है, इतिहास मे पढे थे कि चौथ 17 वीं और 18 वीं शताब्दी में एक-चौथाई राजस्व प्राप्ति को कहा जाता था। आज भी इसकी महत्ता शायद करवा चौथ पर पत्नी द्वारा किये जाने वाले डिमांड रुपी चौथ तो नहीं.😍

पिछले कुछ समय से देखा जाए तो, गांव-कस्बों में भी अब नए-नए प्रेमी युग्लों मे तो गजबे क्रेज होता है, जईसे ही पता चलता है कि इस महीने करवा चौथ है, फूलमतिया कैलेंडर में ललका पेन से तिथि छेंकना शुरू कर देती है, उधर ललनमा अलगे टेंशन में होता है कि क्या गिफ्ट दें, पिछला बेर सैमसंग मोबाईल दिए थे, दूईेंए महीना में हैेग होने लगा था. 15 दिन तक तो फुलमतिया इसी गिफ्ट के चक्कर में रूश-फूल गई थी, बोल भी नहीं रही थी, इस बार क्या दे. पॉकेट भी खाली है. ललनमा सोच रहा कि किसी से कर्जा पईंचा ले लेते हैं गुरू.

करवा चौथ दिवस भी आ जाता है, दोपहर हुआ, मम्मी बार-बार पूछती है, कछु खाले फूलमती, भोरे से, काहे नहीं खा रही लेकिन फुलमती कहती हैं

नो मम्मा, आई फील पेन इन माई स्टोमेक. बाद में खाउंगी.

मम्मा भी देशी में कहती है, खाए के हउ त खो न त बईठ के अचार बनो.

कइसे खा लें, जबतक ललनमा और चांद का दर्शन न करले खाना त छोड़ों, पानी भी न पीएंगी. उधर ललनमा भी रॉ, मोसाद, केजीबी के जासूसों की तरह दिमाग दउरा रहा होता है, गुप्त सूत्रों से पता चला कि अरे फूलमतिया के पापा आजे भोरे-भोरे पास के मिल में गेहूं पिसाने के लिए रख के आए है, ललनमा सुपरसोनिक वेग से भागता हुुआ मिल पहुंच कर गेहूं पिसवाया और 30 किलो का गेहूूूं का बोरा माथा पर लादेे पसीना से लथपथ आ रहा होता है,

फूलमती के दरवाजे पर पहुंचते ही फूलमती के पापा टेशन में आ जाते है और बोलते है ई कोची…. का बोरा ले आया रे ललनमा तू, ऐतना पढलिख के कबसे तू लेबरई करने लगा, हम तो कल लाने वाले थे. मिल वाला बोला था कि कल गेहूं पिसाएगा, आज चक्की खराब है,

ललनमा भी प्रत्युत्तर में झट से बोल देता है, अरे चचा मिल में दिवाली की सफाई चल रही है, आपका आटा गंदा हो जाएगाा और हम सोचे कि जा ही रहें है उस रास्ते से तो बस चचा का आटा भी ड्राप कर दे. फूलमतिया के पापा ललनमा पर गर्वबोध करते हुए छाती मोदी जी की तरह छप्पन इंच फूला लेतें है.

ललनमा आटा को कपार पर से उतार के नीचे लैंड करवा रहा होता और उधर फूलमती दुपट्टा में चलनी छुपाए, सूरतिया देख लेती है. अपने आप बैक ग्राउंड में गाना बजने लगता है,

चांद छुपा बादल में……….. शरमा के मेरी जानां………….. सीने से लग जा तू………

व्रत पूरा हुआ, अब फूलमती पानी क्या सोमरस भी पी सकती है, जाते वक्त ललनमा भी VIVO का मोबाईल छोटका भईवा के जेब में डाल जाता है।

उधर पिंटूआ टेंशन में  है कि इस बार कइसे एंजलप्रिया से मिलने जाएगा, पिछला बार गया था, वैलेंटाईन वीक में चॉकलेट डे पर चॉकलेट गिफ्ट करने, एंजलप्रिया के चारो भाई मिल के चौक पर लेटा लेटा के कूटा था. पुरा गांव में हल्ला हो गया था. उस इलाके में इसकी नो इंट्री है.
पिंटुआ इस बार तकनीक का सहारा लेगा, मोदी जी कहे थे डिजिटल इंडिया-डिजिटल इंडिया. फेसबुक पर प्रोफाईल पिक्चर फीलिंग हैप्पी विथ एंड इंज्वाइंग करवा चौथ लिख के डाल देगा,  ऐंजल प्रिया फेसबुक प्रोफाईल निहार के अपना व्रत खोल लेगी, पेटीएम से डिजिटल ट्रांजेक्शन भी कर देगा, काहे पिटाई खाने जाए भाई. और कहीं मोदी चचा काम आए चाहे न आए यहां सच में मोदी चचा का अकिल काम कर गया.

खैर उपरोक्त तो ह्यूमर रहा, लेकिन अपने पति की स्वास्थ्य, सुख-समृद्धि एवं आयु कि कामना करने वाली देवियोंं को प्रणाम क्योंकि ऐसे कठिन व्रत आपसे ही संभव है हम लौंडे तो आधे दिन में ही भूख से मर जाते है.

जाते-जाते, सभी भाईयों-भउजाईयों और फेसबुक पर लड़कियों की आईडी बना बैठे निठल्ले लौंडो को भी करवा चौथ की विशेष शुभकामनाएं 😍😎

आनंद कुमार

Add a Comment

Connect with us on: