जानकी मंदिर में मजबूर फूल विक्रेता

सीतामढ़ी के जानकी मंदिर प्रांगण में जलजमाव अब भी जारी है और यह तस्वीर है जानकी मंदिर के प्रांगण में फुल विक्रेता की जो आज से नही वर्षों से यहां पर फूल बेचते हैं इस तस्वीर में आप देखिए वह अपनी टेबल को लगा कर भरे पानी में बैठे हैं शायद सुबह से रात तक वह ऐसे ही बैठते हैं और ठीक फूल विक्रेता के बगल में जो एक छोटी सी दुकान नजर आ रही है उस लड़की को भी गौर से देखिए वह भी पानी में खड़ी नजर आ रही है जानकी मंदिर के प्रांगण में पानी की समस्या चाहे जिस प्रशासन की कमी के वजह से अब तक दूर नहीं हो पाई हो लेकिन इससे परेशानी अभी भी केवल और केवल आम जनता को ही है कल मैं गया था मंदिर दर्शन करने के लिए पर नहीं किया मैंने दर्शन यह क्या बात हुई कोई मंदिर आए दर्शन करने और उसको गंदे पानी से होकर गुजरना पड़े, यह मुझे भी मंजूर नहीं । अब तो मैं इस मंदिर के भीतर तभी जाऊंगा जब जलजमाव की समस्या दूर हो गई होगी । इस कमी को दूर करने के लिए सबसे पहले नगर परिषद को ही पहल करनी होगी क्योंकि जितने भी नाली जाम पड़े हैं उस सड़क में या उसके आसपास जो भी बड़े-बड़े नालियों का काम अभी निर्माणाधीन हैं वह सब नगर परिषद के अधीन है और उनकी जब तक वह नगर परिषद नालियों का निर्माण सही से नहीं करा पाएंगे पानी निकलने की व्यवस्था सही से नहीं होगी।

Report:- Rahul Kumar Lath

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *