पेंटिंग के माध्यम से देश दुनिया मे नाम रौशन कर रही सीतामढ़ी की बेटी नेहा ।

जगत जननी माँ जानकी की जन्मभूमि सीतामढ़ी ‘प्रतिभाओं’ के मामले में काफी उर्वर है । यहाँ की कई बेटियाँ अपनी प्रतिभा से देश दुनिया मे सीतामढ़ी का नाम रौशन कर रही है । सीतामढ़ी की बेटी कलाकार नेहा सिंह अपनी पेंटिंग के कारण इन दिनों सुर्खियों में हैं । नेहा की पेंटिंग की प्रशंसा मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार और राज्यपाल सत्यपाल मलिक भी कर चुके हैं ।

अन्य कई हस्तियों के अलावा अंर्तराष्ट्रीय शिक्षाविद और ब्रिटेन के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार से सम्मानित नॉटिंघशायर कॉलेज की पूर्व प्रिंसिपल आशा खेमका भी नेहा की पेंटिंग की सराहना करते हैं। सीतामढ़ी के सांसद रामकुमार शर्मा, वर्तमान जिलाधिकारी डॉ रणजीत कुमार सिंह और पूर्व जिलाधिकारी राजीव रौशन भी नेहा की पेंटिंग की बहुत तारीफ कर चुके हैं ।

नेहा सिंह का पैतृक घर मधुबनी है । उनका घर सीतामढ़ी भी है । वर्तमान में नेहा का पूरा परिवार सीतामढ़ी में ही रहते हैं । नेहा का जन्म 15 दिसम्बर 1994 को मधुबनी जिला के शाहपुर में हुआ । उनके पिता का नाम नंद किशोर सिंह और माता का नाम रंजू सिंह है । बचपन से ही नेहा पढाई लिखाई में मेधावी छात्रा रही है। लेकिन स्कूल के दिनों से ही उनका मन पेंटिंग और चित्रकारी में ज्यादा लगता था । यही कारण है कि नेहा स्कूल के दिनों से ही पेंटिंग बनाना शुरू कर दी । समय समय पर पेंटिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लेती रही । धीरे धीरे नेहा की पेंटिंग में और निखार आया । और आज वर्तमान में नेहा की पेंटिंग पूरे राज्य में चर्चा का विषय है ।

नेहा सिंह 10 वीं और 12 वीं की पढ़ाई सीतामढ़ी के एमआरडी हाई स्कूल से की । फिर स्नातक की डिग्री बीसीए में आरएसएस महिला कॉलेज से प्राप्त की । नेहा ने मेरठ से फाइन आर्ट में तीन वर्षीय डिप्लोमा कोर्स भी की ।

नेहा बचपन से पेंटिंग और चित्रकारी जैसे कला में गहरी रुचि रखती थी । लेकिन असल मे पेंटिंग की तरफ उसका सही झुकाव तब हुआ, जब उसके गाँव मे संत श्री सच्चा बाबा के आश्रम पर एक कार्यक्रम आयोजित था । इस आयोजन में देश विदेश से बड़ी संख्या में श्राद्धालू आये थे । नेहा ने सभी अतिथियों को अपनी बनाई पेंटिंग भेंट की । सभी अतिथि नेहा की पेंटिंग देख कर हतप्रभ रह गए । सबने नेहा की पेंटिंग की बहुत प्रशंसा की । यही प्रशंसा और हौसलाअफजाई ने नेहा को हिम्मत दी । नेहा के सपनों को मानो पंख लग गए । अब नेहा पूरी तरह पेंटिंग में रम जाना चाहती थी । धीरे धीरे नेहा की पेंटिंग की चर्चा सम्पूर्ण सीतामढ़ी जिला में होने लगी ।

17 अप्रैल से 24 अप्रैल 2018 को सीतामढ़ी में जानकी जन्मोत्सव और सीतामढ़ी महोत्सव बहुत ही धूमधाम से मनाया गया । इस आयोजन में तत्कालीन राज्यपाल सत्यपाल मलिक, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, सांसद प्रभात झा, जगतगुरु रामभद्राचार्य आदि का आगमन हुआ । नेहा ने अपनी बनाई पेंटिंग राज्यपाल, मुख्यमंत्री सहित सभी अतिथियों को भेंट की । सबने नेहा की पेंटिंग की बहुत तारीफ किये । नेहा ने राज्यपाल को सीताराम विवाहोत्सव वाली पेंटिंग भेंट की । वहीं मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को जानकी उदभव वाली पेंटिंग भेंट की ।

तत्कालीन सीतामढ़ी जिलाधिकारी राजीव रौशन को नेहा ने गांधी जी की एक पेंटिंग भेंट की । वर्तमान जिलाधिकारी डॉ रणजीत कुमार सिंह को नेहा ने रामसीता विवाह, जानकी उदभव और दुर्गा माता की पेंटिंग भेंट की । डीएम रणजीत कुमार सिंह तो नेहा की प्रतिभा देख कर बहुत सराहना किये । डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह ने नेहा की प्रतिभा को और निखारने हेतु हर संभव मदद देने की बात भी कही । उन्होंने स्पष्ट कहा नेहा की पेंटिंग प्रतिभा को देश विदेश से भी अवगत कराया जाएगा । डीएम के आदेश पर नेहा की दो पेंटिंग पुनौरा स्थित माता जानकी मंदिर में लगाया गया ।ताकि बाहर से आनेवाले पर्यटक शहर की बेटी की इस प्रतिभा से रूबरू हो सके । पेंटिंग अनावरण में सीतामढ़ी सांसद रामकुमार शर्मा और खुद जिलाधिकारी मौजूद थे । मन्दिर महन्थ ने भी नेहा की पेंटिंग की खूब सराहना की ।

नेहा की पेंटिंग को सीतामढ़ी समाहरणालय में जगह जगह लगाने का डीएम ने निर्देश दिया । फिर नेहा की पेंटिंग आज डीएम कक्ष से लेकर पूरे समाहरणालय की शोभा बढ़ा रही।

अब नेहा की पेंटिंग की चर्चा हर तरफ होने लगी । समस्तीपुर रेल मंडल के डीआरएम ने नेहा को आमंत्रित किया । नेहा की पेंटिंग से वो खास प्रभावित हुए । उन्होंने कहा नेहा की सुंदर पेंटिंग को सीतामढ़ी जंक्शन पर लगाया जाएगा । फिर कुछ ही दिनों बाद नेहा ने पांच खूबसूरत पेंटिंग बनाकर समस्तीपुर डीआरएम को सौंपी । आज यह पेंटिंग डीआरएम ऑफिस से लेकर अन्य वरीय रेलवे अधिकारियों के कार्यालयों की शोभा बढ़ा रही है । अलग से चार पेंटिंग सीतामढ़ी स्टेशन पर लगाया गया । इस पेंटिंग का अनावरण खुद हाजीपुर जोन के जीएम और सीतामढ़ी सांसद किये थे ।आज नेहा की चार पेंटिंग 8×3 साइज़ की सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन की शोभा बढ़ा रहा है : जानकी उदभव, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, स्वच्छ भारत, रेल इंजन ।

नेहा की पेंटिंग की सबसे बड़ी विशेषता भी यही है कि वह अपने पेंटिंग के माध्यम से एक सामाजिक संदेश देती है। उसकी पेंटिंग अलमुनियम शीट पर बनी होती । सारी कलर/रंग भी वह खुद ही बनाती है ।

साधारण किसान परिवार में जन्मी नेहा को पेंटिंग में ख्याति जरूर मिली । लेकिन नेहा कहती है कि उसे कहीं से भी कोई आर्थिक मदद नहीं मिली है । नेहा खुद अकेले ही सारा पेंटिंग सामाग्री खरीदती है । सारा पेंटिंग खुद ही अकेले तैयार करती है ।

पेंटिंग के प्रति उनकी दीवानगी देखिये । नेहा अपने गार्डेन में ”पेंटिंग दीवाल” बना रखी है । एक ऐसा दीवाल जहां फुरसत में नेहा की पेंटिंग ब्रश चलती रहती है । इस दीवाल पर नेहा की सारी पेंटिंग की झलक मिल जाएगी ।

पत्र पत्रिकाओं और समाचार पत्रों ने भी नेहा की कामयाबी की सराहना करते हुए भरपूर कवरेज किया ।

सीतामढ़ी की बेटी और महिला सशक्तिकरण की अनूठी मिशाल नेहा पेंटिंग के माध्यम से देश दुनिया अपनी एक पहचान बनाई है । आर्थिक तंगी भी नहीं रोक पाए नेहा के कदम । इस किसान पुत्री की पेंटिंग ने धूम मचा रखा है । बधाई और बहुत बहुत शुभकामनाएं ।।

लाइक कीजिये #सीतामढ़ी_पेज http://facebook.com/Sitamarhi और जुड़े रहिये अपने शहर सीतामढ़ी से ।#Sitamarhi_Page सीतामढ़ी का सबसे बड़ा वेब पोर्टल है । फेसबुक पर इसके 84 हज़ार Followers हैं । सीतामढ़ी यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कीजिये । सीतामढ़ी सम्बंधित ढेर सारे वीडियो आप देख पाएंगे : http://Youtube.com/SitamarhiPage

आर्टिकल : रंजीत पूर्बे

Thanks !!!Sitamarhi Web Family

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *