सीतामढ़ी डीएम को दिल्ली में मिलेगा ‘इंडियन एक्सप्रेस एक्सलेन्स इन गवर्नेंस अवार्ड” ।

सीतामढ़ी जिलाधिकारी डॉ. रणजीत कुमार सिंह ”इंडियन एक्सप्रेस एक्सलेंस इन गवर्नेंस अवार्ड” के लिए चयनित ।
बहुत बहुत बधाई डीएम सर को 💐💐

इस अवार्ड का चयन 27 कैटेगरी में 24 राज्यो के 84 जिलों से किया गया है। दो विशेष चयन समिति द्वारा चयन किया गया है।

जिला के चतुर्दिक विकास के लिए अन्वेषणकारी आइडिया के साथ केंद्र सरकार की योजनाओं को जन जन तक पहुँचाने खास कर शिक्षा, स्वास्थ्य, उद्यम और तकनीकी विकास, महिला सशक्तिकरण, बच्चों और गरीबों के लिए कल्याणकारी कार्य करने के लिए यह अवार्ड दिया जाएगा ।

( सम्मान समारोह का वेन्यू और डेट आपको जल्द बताया जाएगा )

आईये एक विस्तृत नजर डालते है सीतामढ़ी जिला और इसके वर्तमान जिलाधिकारी डॉ रणजीत कुमार सिंह के कार्यों के ऊपर ।

इनके द्वारा किया गया हर एक कार्य खुद बताता है कि एक ‘साधारण’ किन्तु ”खास” आईएएस अधिकारी हैं डॉ रणजीत कुमार सिंह।

जब से सीतामढ़ी आये हैं, जिला के लिए रोज कुछ न कुछ नया ही करते आ रहे हैं । एक एक कर सीतामढी के नाम उपलब्धियों का अंबार लग चुका है । अभी हाल ही में में बिहार सरकार द्वारा बेहतर कार्य करने के लिए दो दो बार सम्मानित किया गया था । इनके कार्यों का वीडियो यूट्यूब पर मिल जाएंगे । ( Youtube.com/SitamarhiPage)

सीतामढ़ी देश का पहला जिला है जहाँ प्रखंड से लेकर जिला तक सब सरकारी कार्यलय में बायोमेट्रिक सिस्टम एंट्री लग चुका है । सीतामढ़ी बिहार का पहला ओडीएफ जिला है । सीतामढ़ी को खुले में शौच मुक्त बनाने लिए व्यावक स्तर पर जनजागरूकता अभियान, रिकॉर्ड शौचालय निर्माण ,लाभार्थियों को एक दिन में रिकॉर्ड एक अरब से ज्यादा भुगतान करवा चुके हैं। शौचालय के लिए खुद ही कुदाल से गड्ढा खोदते हैं तो कभी खुद शौचालय निर्माण हेरु बालू सीमेंट से ईंट जोड़ाई का काम करते है।

सीतामढ़ी में प्लास्टिक और पॉलीथिन भी बंद है । सीतामढ़ी को तम्बाकू मुक्त क्षेत्र बनाने के लिए भी व्व लगातार प्रयासरत है। प्रदूषण मुक्त सीतामढ़ी के लिए एक दिन में रिकॉर्ड चालीस लाख पौधारोपण और वृक्षारोपण कार्यक्रम चलाया गया। इन सबके लिए साइकिल रैली, मशाल रैली में खुद ही लीडर की भूमिका में होते हैं। पार्यावरण संरक्षण और वृक्षारोपण कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य हेतु हाल ही में आपको बिहार सरकार द्वारा पटना में सम्मानित किया गया है ।

हाल ही में जानकी स्टेडियम,डुमरा को मिला आईएसओ प्रमाण पत्र । बिहार का पहला स्टेडियम जिसको उच्च गुणवत्तापूर्ण मानकों के कारण यह अवार्ड मिला है । कुछ दिन पहले ही सीतामढ़ी समाहरणालय आईएसओ प्रमाणित बिहार का पहला सरकारी कार्यालय बन चुका है । इस स्टेडियम में आपके नेतृत्व में कई राज्यस्तरीय खेल कूद प्रतियोगिता, बैडमिंटन प्रतियोगिता का सफल आयोजन हो चुका है ।

आपके प्रयास से सीतामढ़ी में दो मॉल ( Mall) का निर्माण होनेवाला है । जिला परिषद की भूमि में बननेवाले यह आधुनिक सुपर मार्केट निश्चित ही सीतामढ़ी को एक नई ऊंचाई पर ले जाएगा । आपके प्रयास से सीतामढ़ी को नगर निगम का दर्जा मिलने वाला है । आपके प्रयास से सीतामढ़ी मेडिकल कॉलेज के भूमि चयन में तेजी आई । अभी हाल ही में बिहार कैबिनेट द्वारा Sitamarhi Medical College के लिए 500 करोड़ रुपया स्वीकृत भी हो चुका। अभी हाल ही में आपने सीतामढ़ी सदर अस्पताल में 200 बेड वाले नए भवन निर्माण का शिलान्यास किया । ढेर सारे हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बन चुके है । ये सब सीतामढ़ी को स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी एक नई गति प्रदान करेगा और स्वस्थ सीतामढ़ी का आपका सपना साकार होते देर नहीं लगेगी ।

साफ,सुंदर,स्वच्छ और स्वस्थ सीतामढ़ी बनाने को लेकर जिलाधिकारी डॉ रणजीत कुमार सिंह सिर्फ सजग ही नहीं है ,बल्कि खुद ऊर्जावान और लगातार प्रयत्नशील भी है । खेल के प्रति भी आप उतने की सजग है । खुद बैडमिंटन, फुटबॉल, बास्केटबॉल के खिलाड़ी है । सीतामढ़ी के जानकी स्टेडियम में आपके प्रयास से ही जिम स्थापित हुआ। बैडमिंटन आ नया कोर्ट बना । पटना में आपके नेतृत्व में चल रहे एक आईएएस अकेडमी में गरीब और प्रतिभावान छात्रों को मुफ्त में सिविल सर्विसेज की तैयारी कराई जा रही । काबिल-ए-तारीफ ।

सीतामढ़ी की सड़कों पर कभी आप दौड़ लगाते दिखते हैं, तो कभी खुद कुदाल लेकर गन्दे नाला का कचरा साफ करते । मकसद सिर्फ एक : लोगों को जागरूक करना । सीतामढ़ी को साफ,सुंदर और स्वस्थ बनाना ।

प्रत्येक शुक्रवार को आप आमलोगों से जनता दरबार मे मिलते हैं। बड़ी ध्यान से आप लोगों की सुनते हैं । नई सोच के साथ काम करनेवाले हर एक को आप मार्गदर्शित करते हैं । सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक आप रोजाना कार्यालय में बैठते है । अक्सर रात के आठ बज जाता है। काम करने की एनर्जी और इच्छा जो आप मे हैं, दूसरों के लिए अनुकरणीय है ।

शिक्षा व्यवस्था का हाल लेने विद्यालय के औचक निरीक्षण करने पहुंच जाते हैं । जब जरूरत पड़ती बच्चों का क्लास भी लेते हैं । उन्हें पढ़ाते हैं । प्रतियोगी परीक्षा के विद्यार्थियों को मोटिवेट भी करते हसीन । समय समय पर उन्हें सफलता का टिप्स भी देते हैं । पटना स्थित मिशन 50 नामक कोचिंग संस्थान के संस्थापक है डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह । पूर्णत निःशुल्क इस कोचिंग संस्थान में प्रतिभावान और गरीब बच्चों को मुफ्त में सिविल सर्विसेज की तैयारी करते हैं । जब भी सरकारी छुट्टी होती समय समय पर ये पटना जाकर उन बच्चों का क्लास लेते हैं । उन्हें सफलता के सूत्र बताते, इंटरव्यू का टिप्स देते हैं । एभी हाल ही में इसी कोचिंग संस्थान द्वारा सफल विद्यार्थियों के लिए सम्मान समारोह आयोजित किया गया जिसमें डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय जी भी शामिल हुए ।

यह डीएम रात के ग्यारह बजे कड़ाके की सर्दी में भी अपने शहर के रेलवे स्टेशन पहुंच जाते है अपने शहर का जायजा लेने देर रात तक लेते है ।

जब आधा शहर सो रहा होता है यह इंसान गरीब और रिक्शावाले का हाल चाल पूछने रैन बसेरा, पार्क और स्टेशन पहुँचते है । फिर लगभग दो सौ गरीबों के बीच जनसहयोग से कम्बल और गर्म ऊनी कपड़े वितरित करते हैं । वीडियो सुनिये, वो लोगों से अपील करते हैं ”अपने लिए तो सब जीते हैं, अगर आप धनी है या सक्षम है तो असहाय और गरीब की मदद कीजिये” ।

ये इंसान एक आईएएस अधिकारी है, लेकिन गज़ब की सोच, एनर्जी और एक दम डाउन टू अर्थ । कभी मौका मिले, तो मिलिए इस पदाधिकारी से, आप इनके फैन हो जाएंगे । इतना कौन करता । डीएम के साथ साथ ये जनसेवक और सामाजिक कार्यकर्ता की तरह खुद काम करते हैं ।

सारे कार्यक्रम या कोई गतिविधि हो ये खुद लीड करते हैं । सुबह सुबह डुमरा स्टेडियम के जिम में 2 घण्टा पसीना बहानेवाला यह इंसान 10 बजे से 8 बजे रात तक समाहरणालय स्थित अपने डीएम कक्ष में बैठते है । सबकी सुनते, सबसे मिलते हैं ।

सुबह रैली हो, मैराथन दौड़ हो सबसे ज्यादा एक्टिव ये खुद दिखते हैं। नाला की कचड़ा को साफ करने के लिए कुदाल भी चलाते हैं । क्रिसमस पर्व हो बच्चों के बीच केक काटते हैं । दीवाली हो महादलित टोला में गरीबों के बीच मिठाईयां बांटते, उनके साथ पटाखा भी फोड़ते । नया साल सेलिब्रेशन अनाथलय में अनाथ और बेसहारा बच्चों के साथ करते है । उनके साथ खेलते है । केक काटकर खिलाते हैं उन बच्चों को । कोई सांस्कृतिक कार्यक्रम हो खुद स्टेज पर एक गायक के रौल में होते हैं ।

कुछ लोग इनको हीरो कहते है तो कुछ गरीबों के मसीहा । कुछ सीतामढ़ी को धन्य मानते हैं जहां डॉ रणजीत कुमार सिंह जैसे तेज तर्रार, कुशल नेतृत्व वाले यंग, हँसमुख और डायनेमिक जिला पदाधिकारी की नियुक्ति होती है । विगत कुछ महीना में इस डीएम के नेतृत्व में सीतामढ़ी कई कीर्तिमान गढ़ चुके हैं । ओडीएफ,प्लास्टिक फ्री,आईएसओ प्रमाणित समाहरणालय,जानकी इंडोर स्टेडियम, जिम और भी बहुत कुछ ।

जानकी जन्मभूमि सीतामढ़ी के पर्यटन के विकास के लिए भी आप लगातार प्रयासरत है। आपके प्रयास से पटना हनुमान मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्री किशोर कुणाल जी द्वारा ‘सीता रसोई’ का शुभारम्भ किया गया । जल्द ही सीतामढ़ी के सभी पर्यटन स्थलों के लिए आधुनिक एसी बस चलनेवाली है।

समाचार पत्र और टीवी चैनलों द्वारा भी इनके कार्यों की खूब सराहना की जाती है । एक टीवी चैनल का विशेष रिपोर्ट यहां वीडियो में देखिये कैसे बेहद कम समय मे सीतामढ़ी डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह के नेतृत्व में प्रगति के पथ पर बढ़ रहा सीतामढ़ी :

बढ़ते रहिये । ऐसे ही काम करते रहिए सर 🙏🙏

ऐसे ही युवा, ऊर्जावान और विकास के लिए समर्पित जिलाधिकारी चाहिए सीतामढ़ी को । हज़ारों युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत हैं आप । हम लोगों को पूरा विश्वास है आपके कुशल नेतृत्व में सीतामढ़ी विकास की एक नई गाथा लिखेगा ।
हार्दिक शुभकामनाएं डीएम सर 💐💐

जय जानकी । जय सीतामढ़ी ।

लाइक कीजिये #सीतामढ़ी_पेज http://facebook.com/Sitamarhi और जुड़े रहिये अपने शहर सीतामढ़ी से ।#Sitamarhi_Page सीतामढ़ी का सबसे बड़ा वेब पोर्टल है । फेसबुक पर इसके 87 हज़ार Followers हैं । सीतामढ़ी यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कीजिये । सीतामढ़ी सम्बंधित ढेर सारे वीडियो आप देख पाएंगे : http://Youtube.com/SitamarhiPage

आर्टिकल : रंजीत पूर्बे

Thanks !!!Sitamarhi Web Family

1 thought on “सीतामढ़ी डीएम को दिल्ली में मिलेगा ‘इंडियन एक्सप्रेस एक्सलेन्स इन गवर्नेंस अवार्ड” ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *