PreetiParashar Archive

Stories

लघुकथा

सुरभि बड़ी देर से नरगिस के फूलों को देख रही थी| और चन्दन उसे एकटक निहारे जा रहा था| फिर अचानक सुरभि ने पूछा- चन्दन, क्या तुमने कभी फूलों को बात …
Articles

एक शादीशुदा जोड़े का bachelorhood #birthdayspecial

    इनसे मिलिए! ये हैं भावी नेताजी और उनकी नेताइनजी।दोनों एक वर्ष से विवाहित हैं। पर साथ नही रहते। कारण? नही नही कोई मतभेद नही है रामजी की दया से। …
Articles

चिरंजीवी हनुमान आज भी जीवित हैं !

अंजनी पुत्र हनुमान आज भी जीवित हैं. इसके कई प्रमाण हैं जिन पर आज हम नजर डालेंगे. हनुमान के शारीर त्यागने का कोई सबूत नही है और माना जाता …
Uncategorized

“जाने पहचाने से वो चेहरे”

  “जाने पहचाने से वो चेहरे” जाने पहचाने से वो चेहरे, जो टकरा जाते है अक्सर, आते जाते हुए रास्ते में जैसे पहचानती हूँ उन चेहरों को वैसे ही उनके भाव भी पढ़ने लगी हूँ। सुबह …
Uncategorized

“कर्कशा”

तुम क्या किसी से भी प्यार से बात नहीं कर सकती? वो चिढ़कर बोला। वो एक पल को रुकी – वो क्या कर रही थी? आधे घंटे से उस से लड़ …
Articles

मिलिए बिहार के इस यूथ आइकन से!

प्रतिभा हो या हौसला,इसका उम्र से कोई लेना देना नहीं होता। इस बात का जीता जागता सबूत हैं अश्विनी झा जो बेहद कम उम्र में मानवता की सेवा के लिए कई …
Uncategorized

पंचतंत्र की एक कहानी ” नाग और चीटियां”

पंचतंत्र की कहानियाँ शिक्षाप्रद होने के साथ साथ जीवन के लिए महत्वपूर्ण सबक दे जाती हैं| इनके रचयिता विष्णु शर्मा है| पेश है आप सब के लिए एक कहानी ” …
Connect with us on: