राम कुमार शर्मा देंगे लोकसभा से इस्तीफा, लड़ेंगे पंचायत चुनाव.

आज तडके पूरे सीतामढ़ी में इस बात से ख़ुशी की लहर दौर गयी जब सीतामढ़ी के सांसद श्री राम कुमार शर्मा ने लोक सभा से इस्तीफा देने का फैसला लिया, पिछले ढाई साल में कुछ न कर पाने का मलाल ऐसा रहा की शर्मा जी भावुक होकर रो पड़े. सूत्रों से मिली खबर के अनुसार उन्होंने अपने घर में जनमत संग्रह करवाया , उसमे उन्होंने पाया की ज्यादा लोग उनके सांसद होने से खुश नही थे.

2014 में मोदी लहर में जीतने के बाद लोगों ने राम कुमार शर्मा को ठीक से पहचाना था, लोग जब तक उनसे करीब आते उससे पहले शर्मा जी गायब हो गए, फेसबुक पे उनके गुमशुदा होने की खबर चर्चा में आने लगी, लोगों ने अपने स्तर पर उनको ढूँढने का  प्रयास किआ , मगर  असफलता ही हाथ लगी. अचानक से २०१६ में किसी बैठक में उनके उपलब्ध होने की खबर पूरे शहर में जंगली आग की तरह दौरने लगी. जगह जगह उनकी पोस्टर लगाई गयी थी.

प्रधान मंत्री जी ने जहाँ सभी सांसदों को खूब काम करने के लिए प्रोत्शाहित किआ, यहाँ  प्रधान मंत्री ने  भी अपनी विफलता स्वीकार कर ली,  पिछले ३ साल में 9 किमी सड़क बनाकर सबसे निचले पायदान पर राम कुमार शर्मा ने अपनी सफलता दर्ज की.

इनकी सफलताओं की कहानियाँ पूरे सीतामढ़ी में प्रचलित है, बहुत ही निम्न स्तर से संसद बनना कोई सपने से कम नही दीखता, और सांसद महोदय भी इसी सपने में जीना पसंद करते हैं. लोगों का कहना है की पिछले सांसद ने जब काम कर ही दिया तो क्या जरुरत है इनको काम करने की. वैसे भी इतिहास गवाह रहा है की काम करने वाले सांसदों की जीत सीतामढ़ी से कभी नही हुयी.

नोट:  हमें पता है की इससे बहुत लोगों की भावना आहात होगी, लेकिन गहरी नींद में सोये हुए जनता को जगाने के लिए भावनाओं के साथ छेड़ छाड़ करना आवश्यक है. इस लेख के माध्यम से मैं सांसद महोदय से आग्रह करना चाहता हूँ की मोदी लहर में आपकी जीत हुयी थी, आप कुछ काम कीजिये, आपका सांसद निधि का आप इस्तेमाल नही कर पा रहे हैं, काम नही कर पा रहे हैं तो इससे अच्छा है की इस्तीफा दे दीजिये और किसी अच्छे इंसान को सांसद बनने मौका दें.

6 thoughts on “राम कुमार शर्मा देंगे लोकसभा से इस्तीफा, लड़ेंगे पंचायत चुनाव.

  1. दोस्तों मै भी कभी लोकसभा चैनल पर भी किसी कोने में भी नहीं देखा ,

  2. दोस्तों मै भी कभी लोकसभा चैनल पर भी किसी कोने में भी नहीं देखा ,

  3. वाह मुरारी जी, अद्भुत प्रतिभा है आप में, देख कर ही पता लगा लेते हो की कौन किस घर का व्यक्ति है, व्यक्ति घर या परिवार से नहीं होता अपने काम से बड़ा होता है, मीडिया का काम आईना दिखाने का है, उपर्युक्त आर्टिकल में यही किया गया है, हमारे माननीय सांसद जी के काम-काज पर कटाक्ष किया गया है,
    खैर, विनती है कि आपमें ये जो क्षण में उंच-नीच पहचान करने वाली प्रतिभा है, उसका किसी नेता की चमचागिरि करने में व्यर्थ ना करें. शुभ दिन हो आपका. जय हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *